भाषा केवल अभिव्यक्ति एवं संपर्क का माध्यम ही नहीं है अपितु वह सामाजिक सोच, सामासिक संस्कृति और सामूहिक मानसिकता के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है । भारत जैसे  एक बहुभाषी और बहु-सांस्कृतिक देश की राजभाषा एवं संपर्क भाषा होने के साथ-साथ हिन्दी विभिन्न भाषा-भाषी समाजों और संस्कृतियों के बीच अंतः संवाद का माध्यम भी है । राजस्थान केन्द्रीय विश्वविद्यालय का हिन्दी विभाग शैक्षिक एवं सामाजिक प्रतिबद्धता के साथ उपेक्षित समूहों को केन्द्र में लाने की प्रक्रिया में हिन्दी भाषा एवं साहित्य की भूमिका को महत्वपूर्ण मानता है । हिंदी विभाग निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर है । इस विभाग की स्थापना अकादमिक सत्र-2011 में की गयी जिसमें स्नातकोत्तर एवं पीएच.डी. पाठ्यक्रमों को शामिल किया गया है । विभाग का पाठ्यक्रम साहित्य, प्रयोजनमूलक हिंदी और भाषाविज्ञान के एकीकृत अध्ययन पर केन्द्रित है जो छात्रों को रोजगार के अवसर प्रदान करने में पूर्णतया सक्षम है ।

Doctor of Philosophy

पाठ्यक्रम: हिंदी विभाग में  पी-एच.डी. हिन्दी पाठ्यक्रम संचालित हैं । वर्तमान पाठ्यक्रम भाषा के रोजगारपरक संचार सम्बन्धी पहलुओं को उजागर करने की कोशिश करता है । इन पाठ्यक्रमों में स्त्री, दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक तथा हाशिये के  समाज पर  केंद्रित साहित्य की विविध विधाओं, आधुनिक साहित्य सिद्धांतों, तुलनात्मक साहित्य, लोक साहित्य, संस्कृति, सिनेमा, प्रयोजनमूलक हिन्दी, अनुवाद एवं मीडिया अध्ययन आदि विषयों पर विशेष जोर दिया गया है।

अवधि:  पी-एच.डी. की न्यूनतम अवधि  तीन वर्ष अर्थात् छह सत्र होगी । 

M. A. Hindi

M.A. Hindi 2 Year Programme 

Department

Intake

Eligibility

Hindi

50

Bachelor’s Degree in any discipline from any recognized University with Hindi as one of the subjects or studied in Hindi medium with a minimum of 50% marks or equivalent grade in aggregate for general category and 45% or equivalent grade for SC/ST/OBC/PWD/EWS candidates.

 

वर्तमान पाठ्यक्रम भाषा के रोजगारपरक संचार संबंधी पहलुओं को उजागर करने की कोशिश करता है । एम.ए. हिंदी पाठ्यक्रम के उद्देश्य निम्नवत हैं:

  • अंतर अनुशासनिक विस्तार हेतु तुलनात्मक साहित्य के अध्ययन एवं शोध को महत्त्व प्रदान करना |
  • विविध साहित्यिक आन्दोलनों तथा समकालीन साहित्यिक विधाओं का ज्ञान प्रदान करना |
  • छात्रो को परम्परागत साहित्यिक अध्यापन के साथ-साथ विविध क्षेत्रों में कैरियर निर्माण हेतु प्रकाशन, रंगमंच, रेडियो, टेलीविज़न, पटकथा लेखन, विज्ञापन और कॉरपोरेट संचार क्रियात्मक कला, अनुवाद, पत्रकारिता आदि क्षेत्रों मे प्रशिक्षित करना |
  • उपर्युक्त क्षेत्रों मे विशेषज्ञता के लिए तैयार करना |
  • रचनात्मक और पेशेवर लेखन मे कैरियर बनाने के साथ-साथ जनसंचार, भाषा, सांस्कृतिक अध्ययन, तुलनात्मक साहित्य और अन्य क्षेत्रों मे शोध कार्यों के लिए कुशल बनाना |
  • समकालीन मुद्दों के प्रति उन्हे जागरूक और संवेदनशील बनाना |
  • सबसे महत्वपूर्ण एक अच्छे व्यक्तित्व के निर्माण हेतु छात्रों की सहायता करना |

Expertise field of the faculty

S. No.

Name

Qualification

Designation

Area of Specialization

  1.  

Prof. N. Lakshmi Aiyar

 

M.A. M.Phil., B.Ed., NET (UGC), Ph.D., PGDFHT

 

Professor &Head

 

Comparative Literature & Folk Literature: Indian Languages

  1.  

Dr. Sheetal Prasad Mahendra

Ph.D., S.L.E.T., M.Phil., M.A., B.Sc., B.J.M.C., M.J.M.C., N.D.D.Y.

Associate Professor

Madhykaleen Kavy

Journalism

  1.  

Dr. Sandeep V. Ranbhirker

 

M.A. Hindi (Gold Medal), M.Phil. (HCU), Ph.D. (HCU), SET, NET (UGC)

Assistant Professor

Medieval Poetry

Modern Hindi Literature

Poetics

Women Studies

  1.  

Dr. Suresh Singh Rathod

M.A., M.Phil., SLET, Ph.D., (Hindi), M.A. (Sanskrit), BJ, MJ

Associate Professor

कथा साहित्य, लोक साहित्य, मध्यकालीन काव्य

  1.  

Dr, Mamata Khandal

M.A. HINDI, NET (UGC), Ph.D., Post Graduate Diploma in Translation (PGDT),Ph.D.

Assistant Professor

Modern Poetry

Post Modernism

Comparative Literature.

 

Regular

Dr. Jitendra Kumar Singh (on lien)

Assistant Professor

M.A. HINDI, M.A. LINGUISTICS, NET (UGC), Ph.D., Post Graduate Diploma in Natural Language Processing (PGDNLP),Ph.D.: DR. RAMVILAS SHARMA KI VYAVAHARIK ALOCHANA (HINDI SAHITYAKARON KE SANDARBH MEIN)

jitendrasingh@curaj.ac.in

->More

Dr. Mamata Khandal

Assistant Professor

M.A. HINDI, NET (UGC), Ph.D., Post Graduate Diploma in Translation (PGDT),Ph.D.: Hind-Oriya Lambi Kavitaon ka Tulnatmak Adhyayan

mamtakhandal@curaj.ac.in

9413169433

->More

Prof. N.Lakshmi Aiyar

Professor and Head

Comparative Literature

lakshmiaiyar@curaj.ac.in

->More

Dr. S.P. Mahendra

Associate Professor

Ph.D., S.L.E.T., M.Phil., M.A., B.Sc., B.J.M.C., M.J.M.C., N.D.D.Y.

spmahendra@curaj.ac.in

9887011119

->More

Dr. Sandeep Vishwanathrao Ranbhirker

Assistant Professor

M.A. Hindi (Gold Medal), M.Phil (HCU), Ph.D. (HCU), SET, NET (UGC)

sandeepranbhirker@curaj.ac.in

8503891642

->More

Dr. Suresh Singh Rathore

Assistant Professor

M.A., M.Phil, SLET, Ph.D., (Hindi), M.A. (Sanskrit), BJ, MJ

srathore@curaj.ac.in

9928344566

->More

  Not applicable 

Unicode Hindi Typing is practised by M.A. Hindi Students to submit their M.A. Project

 

  • Minor project from ICPR on the topic : Tamil Nadu ke aadhunik darshanik  02 lakhs
  • Compeleted project: A project funded by ICPR for Rs. Two lakhs on the topic “Modern Philosophers of Tamil Nadu : A comprehensive  study”.
Achievement Title Attached File
  • Hemant Yadav                                   JRF      2017-2019    
  • Rampyari                                           JRF      2017-2019    
  •  Sukharam                                         JRF       2019-2021
  • Bhupendra                                         NET     2018-2020
  • Chenaram                                         NET     2018-2020
  • Sukharam                                          NET     2018-2020    
  • Sayari Jat                                          NET     2018-2020
  • Heena Kanwar                                  NET     2019-2021
  • Sona Jat                                             NET     2019-2021

Department of Hindi

CENTRAL UNIVERSITY OF RAJASTHAN
NH-8, Bandar Sindri,
Dist-Ajmer-305817, Rajasthan [INDIA]

: hod.hindi@curaj.ac.in 
: +91-1463-238755